UPA मुख्य मुद्दों को लेकर सरकार पर दबाव बानाने में नाकाम, सामना के जरिए शिवसेना का कांग्रेस पर हमला - www.fxnmedia.com

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

शनिवार, 26 दिसंबर 2020

UPA मुख्य मुद्दों को लेकर सरकार पर दबाव बानाने में नाकाम, सामना के जरिए शिवसेना का कांग्रेस पर हमला

 

 

शिवसेना (Shiv Sena) ने अपने मुखमत्र सामना के जरिए कांग्रेस (Congress) पर करारा हमला बोला है. शिवसेना ने कांग्रेस की आलोचना करते हुए कहा कि बीजेपी का विरोध करने के लिए जब तक यूपीए (UPA) के सभी दल मिलकर सामने नहीं आएंगे, तब तक विपक्ष सरकार पर कोई दबाव (Pressure) नहीं बना सकेगा.

सामना के जरिए शिवसेना ने कांग्रेस को कमजोर (Feeble) और विघटित करार दिया है. इसके साथ ही कांग्रेस (Congress) को यूपीए के बैनर तले एंटी-बीजेपी दलों के साथ मिलकर आगे आने को कहा, जिससे सरकार पर प्रेशर बनाया जा सके.

कृषि कानूनों पर NDA छोड़ने वाले हनुमान बेनीवाल का क्या है इतिहास, कितनी मजबूत है उनकी पार्टी RLP?

कमजोर कांग्रेस के हाथ में UPA की कमान

शिवसेना के करारा हमला बोलते हुए कहा कि फिलहाल यूपीए की कमान कांग्रेस के हाथ में है. मुखपत्र में कहा गया है कि फिलहाल यूपीए एक एनजीओ की तरह दिख रहा है, इसीलिए गठबंधन में शामिल पार्टियां किसान आंदोलन को लेकर बेफिक्र हैं. यह भी कहा गया है कि एनसीपी के अलावा इसमें शामिल किसी भी पार्टी ने किसान आंदोलन के खिलाफ तेजी से आवाज नहीं उठाई है.

Covid-19 Strain: ICMR ने नेशनल टास्क फोर्स की बुलाई बैठक, इलाज-टेस्टिंग पर हुई बातचीत

उन्होंने किसान आंदोलन पर सरकार के फिक्रमंद न होने के पीछे कमजोर विपक्ष को बताया. मुखपत्र में कांग्रेस पर करारा हमला बोला गया है. शिवसेना ने विपक्ष पर पूरी तरहसे बेजान होने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि कमजोर विपक्ष होने की वजह से किसानों की सुध लेने वाला कोई भी नहीं है.

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages