कोरोना वायरस: देश में पिछले 24 घंटों में हुई 551 लोगों की मौत, करीब 50 हजार नए मामले दर्ज - www.fxnmedia.com

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Friday, October 30, 2020

कोरोना वायरस: देश में पिछले 24 घंटों में हुई 551 लोगों की मौत, करीब 50 हजार नए मामले दर्ज

 

नई दिल्ली: भारत में कोरोना वायरस महामारी के 48 हजार 268 नए मामले सामने आने के बाद देश में कुल संक्रमितों की संख्या 81 लाख 37 हजार 119 हो गई है. वहीं 74.32 लाख लोगों के संक्रमण मुक्त होने के साथ ही देश में मरीजों के ठीक होने की दर 90.99 प्रतिशत हो गई है. देश में पिछले 24 घटों में 551 लोगों की मौत हुई है.


देश में अबतक हुई 121641 लोगों की मौत


केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, देश में अब कोरोना के कुल मामले 81 लाख 37 हजार 119 हो गए हैं. इनमें से एक लाख 21 हजार 641 लोगों की मौत हो गई हैं. वहीं, 74 लाख 32 हजार 829 लोग ठीक हो चुके हैं. अभी 5 लाख 82 हजार 649 लोगों का इलाज चल रहा है. कल 59 हजार 454 लोग ठीक हुए हैं.


11 अक्टूबर को 70 लाख के पार चले गए थे मामले


बता दें कि भारत में सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितम्बर को संक्रमितों की संख्या 40 लाख के पार चली गई थी. वहीं, कुल मामले 16 सितम्बर को 50 लाख के पार, 28 सितम्बर को 60 लाख और 11 अक्टूबर को 70 लाख के पार चले गए थे.


झारखंड में लंबे अर्से बाद कोरोना से एक भी मौत नहीं


झारखंड में लंबे समय बाद पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस संक्रमण से किसी भी मरीज की मौत नहीं हुई, जिससे राज्य में मृतकों की संख्या 883 पर स्थिर रही. राज्य में कोरोना के 323 नये मामले सामने आये जिससे संक्रमितों की संख्या बढ़कर 101287 हो गई. झारखंड में 95208 मरीज अब तक ठीक हो चुके हैं. फिलहाल 5196 मरीजों का इलाज चल रहा है जबकि 883 मरीजों की मौत हो चुकी है.


भुवनेश्वर में 50 प्रतिशत आबादी में मिली एंटीबॉडी


कोरोना वायरस की महामारी के बीच राहत भरी खबर देते हुए क्षेत्रीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान केंद्र (आरएमआरसी) ने घोषणा की कि सीरो सर्वेक्षण में पाया गया है कि भुवनेश्वर की 50 प्रतिशत आबादी में इस संक्रामक बीमारी के लड़ने के लिए एंटीबॉडी विकसित हो गई है. सीरो सर्वे में समुदाय के स्तर पर कोरोना के प्रसार का आकलन करने के लिए नमूनों का संग्रह कर जांच की जाती है. एंटीबॉडी वायरस के खिलाफ लड़ने की क्षमता के संकेतक के तौर पर काम करता है.


No comments:

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages