मन की बात में पीएम मोदी हॉलीवुड से हरिद्वार तक योग को गंभीरता से ले रहे हैं लोग, विश्व के कई नेताओं ने ली दिलचस्पी - www.fxnmedia.com

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

रविवार, 31 मई 2020

मन की बात में पीएम मोदी हॉलीवुड से हरिद्वार तक योग को गंभीरता से ले रहे हैं लोग, विश्व के कई नेताओं ने ली दिलचस्पी








प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'मन की बात'


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'मन की बात' कार्यक्रम में योग और आयुर्वेद के महत्व पर प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि कोरोना संकट के बीच योग करना बेहद फायदेमंद हो सकता है। पीएम मोदी ने कहा कि इस समय दुनिया के कई नेताओं की योग और आयुर्वेद में दिलचस्पी है।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, कोरोना संकट के इस दौर में विश्व के अनेक नेताओं से बातचीत हुई है। विश्व के अनेक नेताओं की जब बातचीत होती है तो मैंने देखा, इन दिनों उनकी बहुत ज्यादा दिलचस्पी योग और आयुर्वेद के सम्बन्ध में होती है। कुछ नेताओं ने मुझसे पूछा कि कोरोना के इस काल में योग और आयुर्वेद कैसे मदद कर सकते हैं


उन्होंने कहा, योग जैसे-जैसे लोगों के जीवन से जुड़ रहा है, उसी रफ्तार से लोगों में अपने स्वास्थ्य को लेकर जागरूकता भी लगातार बढ़ रही है। अभी कोरोना संकट के दौरान भी ये देखा जा रहा है कि हॉलीवुड से हरिद्वार तक, घर में रहते हुए, लोग योग पर बहुत गंभीरता से ध्यान दे रहे हैं। हर जगह लोगों ने योग और उसके साथ-साथ आयुर्वेद के बारे में और ज्यादा, जानना चाहा है और उसे अपनाना चाहा है। कितने ही लोग जिन्होंने कभी योग नहीं किया, वे भी या तो ऑनलाइन योग क्लासेस से जुड़ गए हैं या फिर ऑनलाइन वीडियो के माध्यम से भी योग सीख रहे हैं। सही में योग कम्युनिटी, इम्युनिटी और यूनिटी सबके लिए अच्छा है।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बताया, कोरोना संकट के इस समय में योग इसलिए भी ज्यादा अहम है क्योंकि ये वायरस हमारे रेस्पीरेटरी सिस्टम को सबसे अधिक प्रभावित करता है। योग में तो रेस्पीरेटरी सिस्टम को मजबूत करने वाले कई तरह के प्राणायाम हैं, जिनका असर हम लम्बे समय से देखते आ रहे हैं। कपालभाती और अनुलोम-विलोम प्राणायाम से अधिकतर लोग परिचित होंगे। लेकिन भस्त्रिका, शीतली, भ्रामरी जैसे कई प्राणायाम के प्रकार हैं जिसके अनेक लाभ भी हैं।




प्रधानमंत्री ने बताया कि लोगों के जीवन में योग 

प्रधानमंत्री ने बताया कि लोगों के जीवन में योग को बढ़ाने के लिए आयुष मंत्रालय ने भी इस बार एक अनोखा प्रयोग किया है। आयुष मंत्रालय ने 'My Life, My Yoga' नाम से अंतरराष्ट्रीय वीडियो ब्लॉग प्रतियोगिता शुरू की है। भारत ही नहीं पूरी दुनिया के लोग, इस प्रतियोगिता में हिस्सा ले सकते हैं। इसमें हिस्सा लेने के लिए आपको अपना तीन मिनट का एक वीडियो बना करके अपलोड करना होगा।


 इस वीडियो में आप जो योग या आसन करते हों वो करते हुए दिखाना है। साथ ही योग से आपके जीवन में जो बदलाव आया है उसके बारे में भी बताना है। पीएम ने सभी देशवासियों से इस प्रतियोगिता में भाग लेने का अनुरोध किया है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages