पुरे देश में महा मारी फैली है राहुल बाबा को इनको तो पेट्रोल-डीजल के दामों में कटौती की पड़ी है | - www.fxnmedia.com

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Wednesday, April 22, 2020

पुरे देश में महा मारी फैली है राहुल बाबा को इनको तो पेट्रोल-डीजल के दामों में कटौती की पड़ी है |


पुरे देश में महा मारी फैली है 

राहुल बाबा को तुम जीनियस हो  


दुनिया मैं आई  मंदी में ऑयल की कीमतों में कोरोना महामारी के बाद लगातार रिकॉर्ड गिरावट दर्ज की गई है। इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल की घटी कीमतों का असर भारत की राजनीति पर भी देखने को मिल रहा है।


कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने हाल ही में क्रूड ऑयल की घटी हुई कीमत को लेकर ट्वीट कर कहा था 


कि तेल के दाम शून्य से भी कम हो गए हैं, फिर भी भारत में दाम कम नहीं हो रहे हैं। 

उन्होंने तेल की कीमत घटाने की मांग की थी।

 राहुल गांधी की इस मांग का उनकी ही पार्टी के बड़े उनके ही लोगो ने सवाल  उठाने चालू कर देये है  

मिलिंद देवड़ा ने कहा कि भारत ब्रेंट क्रूड का इंपोर्ट करता है न कि डब्ल्यूटीआई क्रूड का। 
डब्ल्यूटीआई क्रूड की कीमत सोमवार को निगेटिव में चली गई थी।
 देवड़ा ने कहा है कि गाड़िया चल नहीं रही हैं, इसलिए तेल के दामों में कटौती का उपभोक्ताओं को कोई फायदा नहीं होगा।




कच्चे तेल के दाम गिरने से  आपकी

लिंद देवड़ा के इस बयान पर कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला सामने आए। उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'मिलिंद देवड़ा भाई, अमेरिका अब भारत का 6ठा सबसे बड़ा तेल आपूर्तिकर्ता है। वर्ष 2019-20 के 6 महीनों में, हमने अमेरिका से 54 लाख टन कच्चे तेल का आयात किया। इसके अलावा, उत्तर भारत में अब फसल की कटाई का मौसम है, डीजल के साथ हार्वेस्टर्स ट्रैक्टर और ट्रक फिर से सप्लाई चेन को आगे बढ़ा रहे हैं।'  


दामों में कटौती

अमेरिकी बाजार में मची उथलपुथल के बीच कच्चे तेल के दाम इस कदर गिरे कि तेल खरीदार उसे उठाने को तैयार नहीं हैं और बेचने वाले को फिलहाल उसे अपने भंडार गृह में रखने को कह रहे हैं।
 हो सकता है इसके लिये उन्हें भुगतान भी करना पड़े। कच्चे तेल का उत्पादन और इसकी उपलब्धता जरूरत से ज्यादा होने के बीच कोरोना वायरस की वजह से मांग घटने के चलते कारोबारी अपने अवांछित स्टॉक को जल्द से जल्द निकालना चाह रहे हैं। 
इससे मई डिलिवरी के अमेरिकी वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट कच्चे तेल के दाम ‘ढह’ गए। 


क्या करे राहुल बाबा 

राहुल  जी कम से क म  इस हालत मैं साथ नहीं दे सकते  है तो , कोई  ऐसी बात मत बोलो की पब्लिक सोशल मीडिया पै  मेम्स बनाये   
    
पको बता दें कि राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में कहा था, 'दुनिया में कच्चे तेल की क़ीमतें अप्रत्याशित आंकड़ो पर आ गिरी हैं, फिर भी हमारे देश में पेट्रोल 69, डीज़ल 62 रुपए प्रति लीटर क्यों? इस विपदा में जो दाम घटे, सो अच्छा। कब सुनेगी ये सरकार?'  

Fxn Media Delhi  


No comments:

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages