क्या चीन का जैविक हथियार है कोरोना वायरस क्यों अमेरिका को भी अभी तक नहीं मिला इसका कोई तोड़ ? - www.fxnmedia.com

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Monday, April 20, 2020

क्या चीन का जैविक हथियार है कोरोना वायरस क्यों अमेरिका को भी अभी तक नहीं मिला इसका कोई तोड़ ?

कोरोना वायरस का ओरिजन यानी जन्म को लेकर है. अब तक कहा जा रहा था कि ये वायरस वुहान की फिश मार्केट से फैला है. लेकिन अब खबर आ रही है कि ये  कोरोना वायरस चीन की ही लैब में तैयार जैविक हथियार भी हो सकता है. 

देखें वारदात.अगर चीन का जैविक हतियार है कोरोना तो क्या चीन के उस डोक्टर ने जो रिपोर्ट में कहा था चीन ने रिपोर्ट के साथ डॉक्टर भी ख़त्म कर दिया कभी हम कल्पना करते थे आज सारी बात समने आ रही है जो हमारी कल्पना से चीन आज हम आगे निकल गया है




 जैविक हथियार क्या होते है  
जैविक युद्ध या रोगाणु युद्ध किसी व्यक्ति, जानवर या पौधे को मारने के उद्देश्य से जैविक आविष्कारों या बैक्टीरिया, वायरस, या युद्ध में कवक जैसे संक्रामक तत्वों का उपयोग होता है।


वह जैविक हथियारों का उपयोग पारंपरिक अंतरराष्ट्रीमानवीय तरीकों और कई अंतरराष्ट्रीय संधियों द्वारा प्रतिबंधित करता है [1] [2] सशस्त्र संघर्ष के दौरान जैविक हथियारों का उपयोग युद्ध अपराधों की श्रेणी में आता है


१ नियम 73. जैविक हथियारों का उपयोग निषिद्ध है। , प्रथागत IHL डेटाबेस, रेड क्रॉस की अंतर्राष्ट्रीय समिति (ICRC) / कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी प्रेस।

२ प्रथागत आंतरिक मानवीय कानून, वॉल्यूम। II: प्रैक्टिस, भाग 1, (संस्करण। जीन-मैरी हेनकेर्ट्स और लुईस डोसवाल्ड-बेक: कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी प्रेस, 2005), पीपी। 1607-10। अलेक्जेंडर श्वार्ज़, सशस्त्र संघर्ष के कानून में "युद्ध अपराध" और बल का उपयोग:
३ सार्वजनिक अंतर्राष्ट्रीय कानून के मैक्स प्लैंक विश्वकोश (एड। फ्राउक लाचेनमैन एंड रुडीगर वोल्फ्रम) ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी प्रेस, 2017), पी। 1317



बाहरी कड़ियाँ बड़ी महत्वपूर्ण है जरा मन लगा के पढ़े
जैविक हथियार और अंतर्राष्ट्रीय मानवीय कानून, ICRC।
जैविक और रासायनिक हथियारों के स्वास्थ्य संबंधी पहलू: विश्व स्वास्थ्य संगठन के पास इसका पुक्ता प्रमाण है
नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन। अभिगमन तिथि, 2013-05-28
को इसको नेशनल लाइब्रेरी मैं रखा गे था




दोस्तों इसकी जानकरी हमें यहाँ से मिले है
आप हमारा ब्लॉक पढ़ते रहो हम इस आप सहयता कर सकते है तो हमें ब्लॉक लिखे सुक्रया


  

  




No comments:

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages