बराक ओबामा ने अपनी किताब में किया दावा-सोनिया ने इसलिए मनमोहन सिंह को PM बनाया - www.fxnmedia.com

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Monday, November 16, 2020

बराक ओबामा ने अपनी किताब में किया दावा-सोनिया ने इसलिए मनमोहन सिंह को PM बनाया

 

नई दिल्ली : राहुल गांधी के बारे में अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा की टिप्पणी से मचा सियासी तूफान अभी पूरी तरह से थमा नहीं है कि उन्होंने अपने संस्मरण 'ए प्रोमिज्ड लैंड'में कांग्रेस नेताओं के बारे में कई दावे किए हैं। अपनी किताब में ओबामा ने लिखा है कि भारत की राजनीति अभी भी जाति, धर्म एवं समुदाय के इर्द-गिर्द घूमती है और पीएम के रूप में डॉक्टर मनमोहन सिंह के चयन के पीछे दूसरी कहानी है। ओबामा का दावा है कि पीएम पद पर मनमोहन सिंह का चयन सोनिया गांधी ने इसलिए किया था क्योंकि उन्हें अपने बेटे राहुल के लिए उनसे कोई 'खतरा' महसूस नहीं हुआ।

'ए प्रोमिज्ड लैंड' में ओबामा ने 2008 के चुनाव प्रचार अभियान से लेकर राष्ट्रपति के रूप में अपने पहले कार्यकाल के अंत में एबटाबाद (पाकिस्तान) में अलकायदा प्रमुख ओसामा बिन लादेन को मारने के अभियान तक की अपनी यात्रा का विवरण दिया है। इस किताब का दूसरा भाग भी आएगा। ओबामा ने लिखा है, 'पीएम पद पर मनमोहन सिंह का चयन सोनिया गांधी ने काफी सोच समझकर किया था क्योंकि उन्हें लगता था कि बुजुर्ग मनमोहन सिंह का राष्ट्रीय राजनीति में कोई जनाधार नहीं होने से उनके 40 वर्षीय बेटे जिसे वह कांग्रेस पार्टी के लिए तैयार कर रही हैं, कोई चुनौती नहीं बनेंगे।'

यही नहीं अपनी किताब में ओबामा ने पूर्व प्रधानमंत्री के आवास पर आयोजित एक रात्रिभोज का जिक्र किया है। वह लिखते हैं कि इस रात्रिभोज में सोनिया गांधी और राहुल गांधी सम्मिलित हुए थे। सोनिया गांधी के बारे में अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति कहते हैं, 'सोनिया गांधी बोलने से ज्यादा सुनती हैं और जब नीतिगत फैसलों की बात आती है तो वह चतुराई से मनमोहन सिंह के रुख से असहमति जताते हुए बातचीत को अपने बेटे की तरफ मोड़ देती हैं।'

ओबामा ने कहा, 'भारत के प्रति मेरे आकर्षण का सबसे बड़ा कारण महात्मा गांधी हैं। (अब्राहम) लिंकन, (मार्टिन लूथर) किंग और (नेल्सन) मंडेला के साथ-साथ गांधी ने मेरी सोच को बहुत प्रभावित किया।' ओबामा ने कहा, 'एक युवा के तौर पर, मैंने उनके लेख पढ़े और पाया कि वह मेरे अंदर के सहज ज्ञान को आवाज दे रहे हैं।'

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति ने अपनी किताब में भारत के साथ अपने जुड़ाव एवं खुद पर महात्मा गांधी के पड़े प्रभाव के बारे में भी लिखा है। उन्होंने लिखा है कि गांधी के कार्यों ने मुझे उनके शब्दों से अधिक प्रभावित किया। उन्होंने अपने जीवन को खतरे में डालकर, जेल जाकर और लोगों के संघर्ष में अपना जीवन लगाकर अपने विचारों की परीक्षा दी। ओबामा ने कहा कि उन्होंने बचपन में रामायण और महाभारत जैसे महाकाव्य हिंदू कथाओं को सुना है जिससे भारत के लिए उनके मन में हमेशान एक विशेष स्थान रहा है। 

No comments:

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages