अगर चलते फिरते आप को हो दिक्कत तो हो जाएं सावधान! WHO ने कोरोना को लेकर किया सचेत - www.fxnmedia.com

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

रविवार, 17 मई 2020

अगर चलते फिरते आप को हो दिक्कत तो हो जाएं सावधान! WHO ने कोरोना को लेकर किया सचेत


                                            

डब्‍ल्‍यूएचओ के विशेषज्ञों का कहना है कि किसी व्‍यक्ति को बोलने में दिक्‍कत के साथ- साथ अगर चलने में दिक्‍कत हो रही है तो उसे तत्‍काल डॉक्‍टर को दिखाना चाहिए। अब विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ने कोरोना वायरस के एक नए लक्षण के प्रति पूरी दुनिया को सचेत किया है। 


देश भर में कोरोना का कहर जारी है। अभी तक कोरोना का कारण सिर्फ कफ, खांसी, बुखार को ही माना जा रहा था, लेकिन अब विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ने कोरोना वायरस के एक नए लक्षण के प्रति पूरी दुनिया को सचेत किया है। डब्‍ल्‍यूएचओ के विशेषज्ञों ने कहा कि बोलने में दिक्‍कत होना भी कोरोना वायरस का गंभीर लक्षण है।
डब्‍ल्‍यूएचओ के विशेषज्ञों का कहना है कि किसी व्‍यक्ति को बोलने में दिक्‍कत के साथ- साथ अगर चलने में दिक्‍कत हो रही है तो उसे तत्‍काल डॉक्‍टर को दिखाना चाहिए। डब्‍ल्‍यूएचओ ने कहा, “कोरोना वायरस से प्रभावित ज्‍यादातर लोगों को सांस लेने में हल्‍की परेशानी हो सकती है।

 ऐसे लोग बिना किसी खास इलाज के ठीक हो जाएंगे।” साथ ही डब्लूएचओ ने कोरोना वायरस के गंभीर लक्षणों में सांस लेने में दिक्‍कत और सीने में दर्द या दबाव, बोलना बंद होना या चलने फिरने में दिक्‍कत को गिनाया हैं। बोलना बंद होना और चलने फिरने में दिक्कत होना नए लक्षण हैं, जिन्हे हाल ही में जोड़ा गया हैं।
वहीं मेलबर्न की ला ट्रोबे यूनिवर्सिटी ने चेतावनी दी थी कि कोरोना वायरस की वजह से कई मरीजों में मनोरोग बढ़ रहा है। अध्‍ययन से जुड़े डॉक्‍टर एली ब्राउन ने कहा कि कोरोना वायरस हरेक के लिए बहुत तनावपूर्ण अनुभव है।
गौरतलब है कि पूरी दुनिया में कोरोना वायरस से अभी तक 47 लाख 72 हजार से ज्यादा कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं। इनमें से लगभग तीन लाख 13 हजार लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, 18 लाख 13 हजार से अधिक ठीक भी हुए हैं। इस वायरस से सबसे ज्यादा अमेरिका प्रभावित है,
 जहां 90 हजार 113 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है। उधर, रूस में भी हालात खराब होते जा रहे हैं। यहां कोरोना मरीजों की संख्या 2 लाख 72 हजार से ज्यादा हो चुकी है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages