RBI गवर्नर शक्तिकांत दास बोले की सरकार से अपना फर्ज निभाने और राजकोषीय उपाय करने के लिए कहें - www.fxnmedia.com

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

शनिवार, 23 मई 2020

RBI गवर्नर शक्तिकांत दास बोले की सरकार से अपना फर्ज निभाने और राजकोषीय उपाय करने के लिए कहें


कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शशिकांत दास द्वारा मौजूदा वित्त वर्ष में विकास दर नकारात्मक रहने की आशंका जताए जाने के बाद शनिवार को कहा कि गवर्नर को सरकार से अपना फर्ज निभाने और राजकोषीय उपाय करने के लिए कहना चाहिए.



'GDP के एक फीसदी से भी कम का प्रोत्साहन पैकेज'

पूर्व वित्त मंत्री ने ट्वीट किया, ''रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास का कहना है कि मांग बुरी तरह से प्रभावित है, वित्त वर्ष 2020-21 में विकास दर नकारात्मक रह सकती है. ऐसे में फिर क्यों वह अर्थव्यवस्था में और पूंजी डाल रहे हैं? उन्हें सरकार से खुलकर कह देना चाहिए कि वह अपनी ड्यूटी करे, राजकोषीय उपाय करे.''



चिदंबरम ने कहा, "रिजर्व बैंक के बयान के बाद भी प्रधानमंत्री कार्यालय और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण एक ऐसे पैकेज के लिए खुद की सराहना कर रहे हैं, जो जीडीपी के एक प्रतिशत से भी कम का राजकोषीय प्रोत्साहन पैकेज है.''




'सरकार ने नकारात्मक दर की ओर ढकेला'

उन्होंने आरोप लगाया, ''आरएसएस को शर्म आनी चाहिए कि कैसे सरकार ने अर्थव्यवस्था को नकारात्मक वृद्धि दर की ओर ढकेल दिया है.'' भारतीय रिजर्व बैंक ने शुक्रवार को कोविड-19 संकट के प्रभाव को कम करने के लिए ब्याज दरों में कटौती,

 कर्ज अदायगी पर ऋण स्थगन को बढ़ाने और कॉरपोरेट को अधिक कर्ज देने के लिए बैंकों को इजाजत देने का फैसला किया. आरबीआई ने प्रमुख उधारी दर को 0.40 प्रतिशत घटा दिया. मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की अचानक हुई बैठक में वृद्धि को बढ़ावा देने के लिए रेपो दर में कटौती का निर्णय सर्वसम्मति से लिया गया.


इस कटौती के बाद रेपो दर घटकर चार प्रतिशत हो गई है, जबकि रिवर्स रेपो दर 3.35 प्रतिशत हो गई है.

बड़े ऊहापोह के बाद फूड बाजार में उतरा Amazon, Swiggy और Zomato से होगी टक्कर

लॉकडाउन: 50 हजार लोगों को अस्थायी नौकरी देगा Amazon, जॉब के लिए इस नंबर पर कर सकते कॉल

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages